ब्रेकिंग न्यूज

*** ध्यान दें- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. *** ध्यान दें-- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप में प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. ***

मंगलवार, 13 जून 2017

JEE टॉपर ने खोला सफलता का राज: दो साल हाथ नहीं लगाया स्मार्टफोन


नई दिल्ली 12 जून 2017। कुछ पाने के लिए कुछ खोना भी पड़ता है….कोई टॉपर यूँ ही नहीं बनता है। अब IIT टॉपर सर्वेश मेहतानी को ही देख लीजिये….। 
मेहतानी के पिता आयकर विभाग में अधिकारी हैं. 12वीं में 95.4 प्रतिशत अंक लाने वाले सर्वेश टॉपर के बारे में सोचा जरूर करते थे.. लेकिन ये कभी नहीं सोचा था.. एक दिन वो खुद देश के नंबर वन बन जायेंगे। तनाव कम करने के लिए टीवी पर कार्टून देखने…गाना सुनने … नॉवेल पढ़ने और बैडमिंटन खेलने में वक्त गुजारने वाले सर्वेश ने कहा कि  ‘‘मैंने फिजिक्स और मैथ्स में 95 फीसदी अंक और कैमिस्ट्री में 97 फीसदी मार्क्स हासिल किए. मेरा पसंदीदा सब्जेक्ट मैथ्स है.’’ मेहतानी आईआईटी बॉम्बे में कम्प्यूटर साइंस पढ़ना चाहते हैं.
मेहतानी ने भी कहा कि वे पिछले कुछ सालों से सोशल मीडिया से दूर हैं. मेहतानी ने कहा, ‘‘मैंने पिछले दो साल से अपना स्मार्टफोन इस्तेमाल नहीं किया. मैं स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हुए पढ़ाई पर ध्यान नहीं लगा सकता था लेकिन जो कर सकते हैं उन्हें व्हाट्सएप और फेसबुक का इस्तेमाल करना चाहिए. पिछले दो सालों में मैं अपने ज्यादा शौक पूरे नहीं कर पाया. मैंने दोस्तों के साथ घूमना भी बंद कर दिया था.’’ यह पूछने पर कि रोज कितनी देर पढ़ाई की, इस पर उन्होंने कहा, ‘‘स्कूल कोचिंग के अलावा मैंने 5 से 6 घंटे पढ़ाई की. छुट्टी के दिन मैंने 8-10 घंटे पढ़ाई की होगी.’’ मेहतानी आमिर खान अभिनीत बॉलीवुड फिल्म ‘थ्री इडियट्स’ से भी प्रेरित हैं.

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।