ब्रेकिंग न्यूज

*** ध्यान दें- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. *** ध्यान दें-- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप में प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. ***

बुधवार, 25 जनवरी 2017

हाटे बाजारे एक्सप्रेस का रूट बदलना लगभग तय

नव-बिहार न्यूज नेटवर्क, नवगछिया/सहरसा। कोसी और सीमांचल के रेलयात्रियों के लिए ये बड़ी खुशखबरी है कि हाटे बाजार एक्सप्रेस अब सप्ताह में तीन दिन पूर्णिया स्टेशन होकर चल सकती है। समस्तीपुर मंडल ने इस आशय का प्रस्ताव हाजीपुर रेल मुख्यालय को भेजा है।

समस्तीपुर मंडल के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी वीरेंद्र कुमार के अनुसार प्रस्ताव पर मुख्यालय और रेलवे बोर्ड की मुहर लगने के बाद ट्रेन सप्ताह में तीन दिन पूर्णिया और चार दिन मानसी, नवगछिया होकर सियालदह जायेगी। पूर्णिया होकर ट्रेन गुजरी तो मधेपुरा, बनमनखी, जानकीनगर, बिहारीगंज के यात्रियों को राहत मिलेगी। उन्हें ट्रेन पकड़ने को कटिहार या सहरसा जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। फिलहाल हाट-बाजारे एक्सप्रेस ट्रेन प्रतिदिन मानसी, नवगछिया, कटिहार होकर सियालदह जाती है।

क्या है वजह:

पूर्णिया होकर हाटे-बाजारे एक्सप्रेस चलने से यात्रियों को 55 मिनट समय की बचत होगी। मानसी में इंजन बदलने में लगने वाले 20 मिनट और दूरी 23 किलोमीटर कम होने पर ट्रेनों का परिचालन समय करीब आधा घंटा बचेगा। दूरी कम होने से सामान्य बोगी का 10 और स्लीपर का 30 रुपये तक किराया कम हो जायेगा। सूत्रों की मानें तो सप्ताह में तीन दिन पूर्णिया और चार दिन मानसी होकर इस ट्रेन का चलना तय है। बस आधिकारिक घोषणा बाकी है। सहरसा से मानसी होकर कटिहार के रास्ते सियालदह की रेलमार्ग दूरी 589 किमी है।

कोई टिप्पणी नहीं:

इस गैज़ेट में एक त्रुटि थी.

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

इस गैज़ेट में एक त्रुटि थी.

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।